युवक की निर्मम हत्या, दो आरोपी को लंका पुलिस ने किया गिरफ्तार डीसीपी काशी जोन ने किया खुलासा

Bekauf Khabar Bharat
By -
0


वाराणसी :पुलिस आयुक्त द्वारा  गंभीर अपराधों की रोकथाम हेतु दिये गये निर्देशों के अनुपालन में आर0एस0 गौतम पुलिस उपायुक्त, काशी जोन के निर्देशन में व अपर पुलिस उपायुक्त काशी जोन व सहायक पुलिस आयुक्त भेलूपुर के पर्यवेक्षण में दिनांक 15.08.2023 को ग्राम नरोत्तमपुर स्थित खेत में मिली एक अज्ञात नवयुवक की लाश के सम्बन्ध में थाना स्थानीय पर पंजीकृत मु0अ0 सं0 0324 / 2023 धारा 302 भा0द0वि0 के सफल अनावरण हेतु प्रभारी निरीक्षक अश्वनी पाण्डेय के नेतृत्व में गठित टीम में शामिल उ0नि0 कुंवर अंशुमान सिंह, चौकी प्रभारी रमना, उ0नि0 प्रणव पाण्डेय, हे0का0 जितेन्द्र सिंह, का0 विरेन्द्र यादव, का0 अमित शुक्ला मय फोर्स द्वारा सीसी टीवी फुटेज, सर्विलान्स की मदद से विवेचना में प्रकाश में आये वांछित आरोपीगण की तलाश के क्रम में चौकी क्षेत्र रमना में आपस में वार्ता कर रहे थे कि मुखबिर खास की इस सूचना पर कि "साहब आपके थाना क्षेत्र में जो जघन्य हत्या की घटना हुई है 

उसके अभियुक्त मोनू कुमार व दीपक कुमार इस समय बजबजा प्लांट के पास निमार्णाधीन स्थान पर मौजूद हैं जो कहीं बाहर भागने की फिराक में हैं। यदि जल्दी करें तो पकड़े जा सकते हैं,विश्वास कर पुलिस बल के द्वारा घेराव दबिस देते हुए पकड़ने का प्रयास किया कि हम पुलिस वालों को देखकर भागना चाहे कि आवश्यक बल प्रयोग कर दोनो व्यक्तियों को बजबजा प्लाण्ट के पास स्थित सड़क के पास से पकड़ लिया गया।

 नाम पता पूछा गया तो एक अपना नाम मोनू कुमार पुत्र श्रीनाथ निवासी नरोत्तमपुर थाना लंका उम्र 22 वर्ष व दूसरे ने अपना नाम दीपक कुमार पुत्र श्रीनाथ निवासी नरोत्तमपुर थाना लंका उम्र करीब 19 बताया। पकड़े गए आरोपी को कारण गिरफ्तारी बताते हुए समय करीब 20.30 बजे हिरासत पुलिस में लिया गया। आवश्यक विधिक कार्यवाही की जा रही है,

पकड़े गए  अभियुक्त से पूछताछ पर अभियुक्त मोनू द्वारा बताया गया कि साहब कैलाशचन्द्र मुदुली जो उड़ीसा का रहने वाला था और खलासी का काम करता था जो सब्जी लेने के लिए जा रहा था। जिसको मैं साथ लेकर रमना स्थित देशी शराब के ठेके से शराब खरीद कर पिया और पिलाया। शराब पीने के बाद मुझे उसके पास रखे पैसों और मोबाइल का लालच आ गया जिसके कारण मैने उसके सिर पर पीछे से ईंट से वार कर दिया जिससे वह जमीन पर गिर गया

 जिसके बाद मैने उसके चेहरे व सिर पर कई बार ईट से वार करके मार डाला,उसकी जेब में रखे मोबाइल फोन और पैसा लेकर मैं अपने घर चला गया। साहब, यह सब मुझसे शराब के नशे व लालच के कारण हो गया, मुझे माफ कर दीजिए,अभियुक्त दीपक द्वारा पूछताछ पर बताया गया कि साहब. “कैलाशचन्द्र मुदुली को मेरे भाई मोनू ने शराब पिलाने के बाद ईंट से मारकर हत्या कर दिया था जिसका मोबाइल मैने अपने भाई से ले लिया और पकड़े जाने से बचने के इरादे से मैने उसकी सिम निकालकर अपने फोन में लगा कर इस्तेमाल कर रहा था।

गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम प्रभारी निरीक्षक अश्वनी पाण्डेय थाना लंका, उ0नि0 कुवर अंशुमान सिंह, चौकी प्रभारी रमना,उ0नि0 प्रणव पाण्डेय,हे0का0 जितेन्द्र सिंह, हे0का0 दिलीप सिंह,का0 वीरेन्द्र यादव,का0 अमित शुक्ला,का0 आशीष तिवारी,का0 कमल सिंह यादव, का0 अखिलानन्द पाण्डेय,का0 चन्दन पाण्डेय,का0 सूरज सिंह,का0 नीरज कुमार मौर्या, थाना चितईपुर, कमिश्ररेट वाराणसी।

*************************************** बेखौफ खबर भारत न्यूज़ 

         बृजेश कुमार सिंह की रिपोर्ट

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)