विद्यापीठ में स्वच्छता दूध सम्मान समारोह का हुआ आयोजन

Bekauf Khabar Bharat
By -
0

वाराणसी। माय होम इंडिया और फेरी पटरी ठेला व्यवसायी समिति की ओर से बुधवार को गांधीअध्ययन सभागार काशी विद्यापीठ में  स्वच्छता दूत प्रमोद निगम की स्मृति में स्वच्छता दूत सम्मान समारोह का आयोजन किया है।


 इसमें मुख्य अतिथि शहर दक्षिणी विधायक डॉ नीलकंठ तिवारी ने कहा कि स्वच्छता भारतीयता का मूल तत्व है। भारतीयों के दिनचर्या का अहम हिस्सा है। कहा कि स्वच्छता से दूरी ही लोग बीमारियों के घेरे में आते हैं। स्वच्छ भारत अभियान ने गंभीर बीमारियों का समूलनाश का किया है।


 अभियान के तहत घर घर बने शौचालयों ने माताओं बहनों के आत्मसम्मान की रक्षा की है। कहा कि स्वच्छता दूत  समाज का मुखिया होता है। वह समाज के भीतर बीमारियों को घुसने नहीं देता है।  


विशिष्ट अतिथि अंतरविघालय अध्यापक शिक्षा केंद्र बीएचयू के निदेशक प्रो प्रेमनारायण सिंह ने कहा कि काशी की स्वच्छता में रहड़ी व्यवसायियों का अहम योगदान है।

 प्रमोद निगम ने रेहड़ी व्यवसायियों के प्रति समाज का दृष्टिकोण बदला है। उन्होंने रेहड़ी व्यापारियों के उत्थान के लिए जीवन खपा दिया। 

अध्यक्षता कर रहे शिवगामी ट्रस्ट के संस्थापक आनंद स्वामी ने कहा कि स्वच्छता के लिए आत्मिक शुद्धता जरूरी है। स्वच्छता से अन्तर्मन में संतोष का भाव जाग्रत होता है। 

इस दौरान सीए सतीश कुमार, मनोज कुमार, अनिल यादव राजमणि सिंह आदि वक्ताओं ने विचार व्यक्त किए। 

समारोह में काशी की स्वच्छता में अहम योगदान देने वाले नौ रेहड़ी व्यवसायियों को स्वच्छता रत्न सम्मान से सम्मानित किया गया। इनमें पूजा राम पार्वती देवी, नरोत्तम, मंगरू यादव, गौतम साहनी, राकेश यादव, प्रमोद सरोज, दीपक रस्तोगी आदि शामिल रहे। 

 स्वागत अनिल किंजवेड़कर और संचालन स्वतंत्र बहादुर सिंह ने किया। धन्यवाद ज्ञापन अभिषेक निगम ने दिया। इस मौके मनोज कुमार, सतीश कुमार, अनिल किंजवेड़कर, अनिल यादव, पंकज, विवेक मिथिलेश आदि गणमान्य लोग मौजूद रहे।

************************************

 बेख़ौफ़ भारत न्यूज़ 

                    बृजेश कुमार सिंह की  रिपोर्ट

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)