प्रभु श्री राम ने तोड़ा शंकर धनुष और 10हजार राजाओं का घमंड

Bekauf Khabar Bharat
By -
0

वाराणसी ::काशीपुरा रामलीला के छठवें दिन धनुषयज्ञ के लीला का मंचन बहुत ही भव्यता के साथ हुआ देश देशांतर के दस हजार राजा सीता स्वयंवर में सीता को वरण करने के लिए आये पर शिव धनुष तोड़ना तो दूर उसे हिला तक नही पाए। 



जिसे प्रभु श्री राम जी ने गुरू के आशीष लेकर बहुत ही सहज और आसानी के साथ चाप ही नही वरन उसे अपने हाथो से तोड़ कर जनक विदेह राज के वचनों की लाज रख सीता स्वयंवर में सीता जी के साथ जयमाल पहन कर बन गये सीता राम।


धनुष टूटने पर परशुराम द्वारा कुपित होना लक्ष्मण जी द्वारा परशुराम के साथ संवाद बहुत उत्तेजित रहा अन्त में श्री राम प्रभु द्वारा परशुराम जी को अपना विराट परिचय देकर परशुराम का क्रोध शान्त किया अन्त में आरती के साथ आज की रामलीला सम्पन्न हुआ। I



बहुत सुन्दर रामायण की चौपाईयो के बीच कथा प्रसंग का मंचन हुआ। 



रामलीला में रामायणी महन्त अशोक कसेरा ,महामन्त्री  अरूण कसेरा ,कोषाध्यक्ष अमित कसेरा मंत्री प्रकाश कसेरा मीडिया प्रभारी राम बाबू प्रदीप कसेरा राम कुमार राजेन्द्र क्षत्रिय राम किशोर कसेरा बउवा कसेरा राज कुमार राजेश कसेरा शिवम कसेरा विजय बाबू राम दुलारे बाबू कसेरा बचऊ कसेरा विनोद कसेरा सहित काफी संख्या में  श्रधालु की भीड़ इस रामलीला का अवलोकन किया।

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)