वाराणसी शहर को सोलर सिटी के रूप में किया जायेगा विकसित

Bekauf Khabar Bharat
By -
0

वाराणसी। उत्तर प्रदेश सरकार की सोलर एनर्जी पालिसी 2022 के अंतर्गत प्रदेश के लिए 6000 मेगावाट सोलर रूफटॉप संयंत्र (आवासीय एवं गैर आवासीय) के स्थापना का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। वाराणसी शहर को सोलर सिटी के रूप में विकसित किया जाना है।


 इसके लिए सोलर रूफटॉप संयंत्र (आवासीय एवं गैर आवासीय) की स्थापना हेतु बूथ कैम्प के माध्यम से ''हर घर सोलर अभियान'' चलाया जा रहा है।इसी कड़ी में मंगलवार को भेलूपुर विधुत उपकेन्द्र परिसर में आयोजित कार्यक्रम में वार्ड नंबर 91 के लाभार्थी रमेश चंद्र जायसवाल के छत पर स्थापित ग्रिड कनेक्टेड सोलर रूफटॉप संयंत्र क्षमता 3 किलोवाट, विनय कुमार रॉय के छत् पर स्थापित 7 किलोवाट, गंगा दास तिवारी के छत् पर स्थापित 4 किलोवाट, संजय भट्टाचार्या के छत पर स्थापित 5 किलोवाट, मृत्युंजय सिंह के छत पर स्थापित सोलर रूफटॉप संयंत्र का उद्घाटन एवं बूथ कैम्प का रिबीन सेरेमनी महापौर अशोक तिवारी द्वारा किया गया।

 


उसके उपरांत लाभार्थि को शिल्ड प्रदान किया गया। महापौर ने इस अवसर पर मौजूद लोगों को सोलर रूफ टॉप योजना के लाभ से अवगत कराया गया। वरिष्ठ परियोजना अधिकारी यूपी नेडा द्वारा अपने संबोधन में सोलर रूफटॉप योजना से संबंधित विस्तृत जानकारी से समस्त उपस्थित जन मानस को अवगत कराया गया तथा बूथ कैम्प की एक टीम वार्ड के हर घर में जाकर लोगों को योजना के बारे में जानकारी प्रदान करा रहे हैं।


 उक्त कार्यक्रम में नगर निगम के संबंधित अधिकारी, पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के अधिकारी, वार्ड के पार्षद  प्रतिनिधि शशि कुमार गुप्ता, वरिष्ठ परियोजना अधिकारी-2, दशरथ प्रसाद, त्रिलोकी, गौरव कुमार एवं समस्त कर्मचारी यूपीनेडा एवं अन्य लोग प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

*************************************

 बेख़ौफ़  खबर भारत न्यूज़ 

                             बृजेश कुमार सिंह की रिपोर्ट

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)