स्मिथ स्कूल के वार्षिकोत्सव में याद किये गए क्रांतिकारी राजा गण

Bekauf Khabar Bharat
By -
0

वाराणसी:डब्ल्यू एच० स्मिथ मेमोरिलय स्कूल 65वें स्थापना दिवस पर प्रतिबिम्ब 2023 के वार्षिकोत्सव के प्रथम चरण को पूरे धूमधाम से आज दिनांक 9 नवम्बर 2023 दिन गुरूवार को सेन्ट पॉल चर्च ग्राउण्ड, सिगरा, वाराणसी में सायं 5.00 बजे मनाया गया।


 कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एयर कामोडोर अनुज गुप्ता, वाराणसी व विशिष्ट अतिथि प्रो० अलका सिंह प्राचार्य, बसंत कालेज, राजघाट एवं डॉ० पूनम सिंह सेवानिवृत्त प्रधानाचार्या के०वी०एस० के दीप प्रज्ज्वलन के साथ कार्यक्रम का औपचारिक शुभारम्भ हुआ। अतिथियों के आगमन पर अध्यापक-अध्यापिकाओं, छात्र-छात्राओं व अभिभावकों ने खड़े होकर करतल ध्वनियों से स्वागत किया। तत्पश्चात प्रधानाचार्या डॉ० अनीता पॉलिन डे एवं प्रबंधक प्रदीप कुमार डे ने उपस्थित मुख्य अतिथि एवं विशिष्ट अतिथियों का स्वागत किया। प्रधानाचार्या  ने भाषण में सर्वप्रथम ईश्वर को धन्यवाद दिया तथा उन्होंने विद्यालय, शिक्षकों एवं छात्र- छात्राओं की उपलब्धियों से सबको अवगत कराते हुए बताया कि आज हमारा विद्यालय 2500 छात्रों को प्रतिवर्ष शिक्षा प्रदान कर एक विशाल वट वृक्ष के समान समाज को एक नई दिशा देने में अग्रसर है। यहाँ से शिक्षा प्राप्त किए हुए बच्चे देश- विदेश में अपना नगर एवं देश का नाम रौशन कर रहे हैं। आर्केस्ट्रा 53 छात्र- छात्रओं ने मनमोहक प्रस्तुति दी सुनहरी यादें अभिभावकों को समूह गान के साथ ही साथ किस्सा गोई के माध्यम से देश को आजाद कराने का प्रयास करने वाले राजाओं के योगदान का मंचन अभि भावकों व दर्शकों का दिल जीत लिया। विलियम शेक्सपीयर कृत अंग्रेंजी नाटक किंग लियर के द्वारा शक्ति परिवार के प्रतिनिष्ठा, आत्म प्रशंसा के दुस्परिणामों का कुशल मंचन छात्र- छात्राओं द्वारा किया गया। 32 कैप्टन छात्र- छात्राओं ने मुख्य अतिथि विशिष्ट व अतिथि को सम्मानपूर्वक आगवानी करते हुए कार्यक्रम स्थल तक पहुँचाया। बच्चों के साथ-साथ विद्यालय के अभि भावक समूह द्वारा गीत की मनमोहक प्रस्तुती की गई,कक्षा 5 से 12 के 40 छात्र-छात्राओं ने यूनिटी इन डायवरसिटी के माध्यम से भारत के प्रसिद्ध 6 शास्त्रीय नृत्य का मनमोहक मंचन किया गया। कक्षा 6 से 12 के छात्रों की रेजल डेजल डॉस ने सबको मंत्रमुग्ध कर दिया। दर्शक दीर्घा में लगभग दो हजार अभिभावकों ने इतने बड़े स्तर पर आयोजित इस कार्यक्रम की प्रशंसा करते रहे और तालियों की गडगडाहट से पूरे वातावरण को गुंजायमान करते रहे। पूरा कार्यक्रम अभिभावकों को अपनी तरफ खींचने में सफल रहा। मुख्य अतिथि व विशिष्ठ अतिथि गण इस सांस्कृतिक आयोजन से बहुत प्रभावित हुए। उन्होंने कहा कि प्रति बिम्ब 2023 स्वर्णाक्षरों में लिखे जाने योग्य है। इस पूरे कार्यक्रम का संचालन विद्यालय के छात्र-छात्राओं श्रीमती मीना मेमगन व श्रीमती अंजली मालवीय द्वारा किया गया। धन्यवाद ज्ञापन श्रीमती प्रत्याशा मुखर्जी द्वारा दिया गया। इस अवसर पर सभी अध्यापक व कर्मचारी वृन्द उपस्थित रहे।

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)