सेंट्रल हिंदू गर्ल्स में वार्षिक महोत्सव अभिलेख प्रदर्शनी छायाचित्र का हुआ आयोजन

Bekauf Khabar Bharat
By -
0

वाराणसी।सेंट्रल हिंदू गल्स स्कूल कमच्छा में वार्षिकोत्सव अभिव्यक्ति वाराणसी की ओर से "अभिलेख प्रदर्शनी" व छायाचित्र प्रदर्शनी का सफल आयोजन किया गया ,


जिसमें मुख्य अतिथि  अतिथि काशी हिंदू विश्वविद्यालय के रेक्टर प्रोफेसर विजय कुमार शुक्ला,विशिष्ट अतिथि प्रोफेसर अलका सिंह, प्राचार्या वसंत महिला महाविद्यालय, राजपाट एवं उपाध्या स्कूल बोर्ड प्रोफेसर सुषमा घिल्डियाल एवं स्कूल बोर्ड के सदस्य प्रोफेसर मधु कुशवाहा व प्रोफेसर नन्दिता घोषाल उपस्थित रही।

कार्यक्रम का शुभारंभ महामना मदन मोहन मालवीय एवं महीयसी डॉ० एनी बेसेंट की प्रतिमा पर माल्यार्पण व दीप प्रज्वलन कर शिव संकल्प सूक्त मंत्रोचार द्वारा किया गया, जो कि डॉक्टर दीपिका राय द्वारा निर्देशित किया गया,

तदुपरांत डॉक्टर सुनयना सिंह के नेतृत्व में एन.सी.सी. की छात्राओं ने मुख्य अतिथि को गार्ड ऑफ ऑनर दिया।कार्यक्रम का प्रारम्भ प्राचार्य पंकज गुप्ता के द्वारा अतिथियों के स्वागत से हुआ। प्राचार्य ने वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत की साथ ही अभिव्यक्ति-2023 के सफल क्रियान्वयन के लिए छात्राओं एवं शिक्षकों को शुभकामनाएं प्रेषित की, तदुपरांत मुख्य अतिथि रेक्टर माननीय प्रोफेसर विजय कुमार शुक्ला ने विभिन्न प्रतियोगिताओं में छात्र/छात्रों की उपलब्धियों के लिए पुरस्कृत किया।

लक्ष्मी बाई सदन को वर्ष भर की सहशैक्षिक गतिविधियों के अंकों के आधार पर विजयी ट्रॉफी से सम्मानित किया गया साथ ही मुख्य अतिथि ने आशीर्वचन के रूप में छात्राओं का उत्साहवर्धन किया इस अवसर पर छात्राओं ने रंगारंग प्रस्तुतियां दी, सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति मणेश वंदना से हुई जिसका निर्देशन डॉक्टर संध्या गुप्ता द्वारा किया गया, वाद्ययंत्रों में सितार के तारों को झंकृत करते हुए भजन माला डॉक्टर सिद्धार्थ चौधरी के मार्गदर्शन में संपन्न हुआ, कार्यक्रम का आकर्षण नन्हे मुन्ने प्राथमिक विभाग के बच्चे रहे 



जिन्होंने मंच पर काशी दर्शन का अद्भुत अलौकिक दृश्य "हमारा प्यारा बनारस" प्रस्तुत किया। तदुपरांत भ्रष्टाचार विषय पर आधारित "हम हैं जिम्मेदार" लघु नाटिका का मंचन किया गया जिसका लेखन एवं निर्देशन डॉक्टर सूर्यकांत झा के द्वारा किया गया। संपूर्ण कार्यक्रम को रसासिक्त करने वाला मधुर गायन डॉक्टर चंदा रानी के नेतृत्व में हुआ, इसी क्रम मे आंग्ल भाषा का नाटक "Nature's Amour" प्रस्तुत किया गया



 जिसका निर्देशन श्रीमती शालिनी मेहरोत्रा द्वारा किया गया, डॉक्टर संध्या गुप्ता द्वारा निर्देशित नृत्य नाटिका अब गोविंद ना आएंगे" में द्रौपदी के चीर हरण में उसका सशक्त रूप दर्शाते हुए समाज को यह संदेश दिया गया कि आज की नारी स्वयं रक्षा करने में समर्थ है।



 मंच संचालन का दायित्व विद्यालय की छात्रा परिशिखा जैन, संस्कृति गुप्ता एवं संस्कृति मिश्रा द्वारा किया गया और धन्यवाद ज्ञापन उपप्रधानाचार्या, डॉक्टर रश्मि द्वारा किया गया। कार्यक्रम को सफल बनाने मे विद्यालय परिवार के समस्त शिक्षकों एवं कर्मचारियों का अभूतपूर्व योगदान रहा ।

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)