सभी उद्यमियों ने अपनी धार्मिक भावना के अनुरूप सहयोग देने का संकल्प लिया:कुलपति प्रो बिहारी लाल शर्मा

Bekauf Khabar Bharat
By -
0

वाराणसी।234 वर्षों से सम्पूर्ण देश में देव भाषा संस्कृत का अनवरत प्रवाह करने वाली प्राच्यविद्या के इस संस्था के संरक्षण एवं अभ्युदय के लिए काशी के प्रमुख उद्यमी ज़न एवं प्रबुद्ध जन संकल्पित भावना से प्रयासरत हैं।उक्त  विचार सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो बिहारी लाल शर्मा  की अध्यक्षता में  आज मकर संक्रांति के पर्व पर संस्था के अति प्राचीन पंच मंदिर के समक्ष काशी के प्रमुख उद्यमियों के साथ एक बैठक में व्यक्त किया।सनातन धर्म संस्कृति मे विद्या, भूमि, गौ और अन्न दान का महत्व है


मकर संक्रांति पर्व पर काशी के उद्यमियों ने इस संस्था के उत्थान के लिये संकल्प भावना के साथ सहयोग करने के लिए बढ़चढ़कर अपनी धार्मिक भावना का संदेश दिया।कुलपति प्रो बिहारी लाल शर्मा ने बताया कि बैठक में यह संस्था देववाणी संस्कृत के संरक्षण एवं संवर्धन के लिए स्थापित है यह काशी की धरोहर है इसकी रक्षा करना हम सभी का दायित्व एवं धर्म है।इस संस्था के पुनरुद्धार के लिए सभी ने एक स्वर में मिलकर धर्म भावना से धन जुटाने के साथ-साथ केंद्र और राज्य सरकार से सामंजस्य स्थापित करके इस संस्था को केंद्रीय स्वरुप प्रदान करने के लिए हर स्तर पर प्रयास करेगा।


केंद्रीयकरण होने से संस्था में किसी भी तरह की आर्थिक समस्याओं का सामना नहीं करना होगा।कुलपति प्रो शर्मा ने बताया कि बैठक में यह विचार किया गया कि काशी ज्ञान की राजधानी है ज्ञान की सबसे प्राचीन संवाहिका यह विश्वविद्यालय है।इसके संरक्षण-संवर्धन के लिए काशी के 31 उद्यमियों ने 1-1 लाख (प्रत्येक ने एक- एक लाख) रुपये आज ही दान के रूप में देकर आज के इस दान पर्व मकर संक्रांति की भावना का आदर किया,विश्वविद्यालय के अभ्युदय एवं उत्थान के लिये जिस समिति का गठन किया जा रहा उसका नाम "विश्वविद्यालय विकास समिति" होगा जिसको मूर्त रूप देने के लिए शीघ्र ही इस 31 उद्यमियों के साथ-साथ ,डीन और अधिकारियों की सामूहिक बैठक आयोजित करके संस्था के अभ्युत्थान के लिए दूरगामी मानचित्र तैयार किया जाएगा।वाराणसी के महापौर श्री अशोक कुमार तिवारी ने भी अपनी संकल्पित भावना से नगर निगम के तरफ से परिसर में हाई मास्क लाइट लगाने के साथ ही अन्य आवश्यकताओं का भी ध्यान रखा जाएगा।


सभी सहयोगियों जनों ने संकल्पित भाव से कहा कि इस संस्था के गौरव के अनुरूप विकास हो इसके प्रकाश से काशी ही नहीं सम्पूर्ण देश प्रकाशित होगा।इस संस्था से सभी का भावनात्मक लगाव है।वाराणसी के महापौर अशोक कुमार तिवारी के साथ प्रमुख उद्यमियों में आर•के• चौधरी, अशोक अग्रवाल,आर•सी जैन, मनीष तलवार, जयशंकर शर्मा, पवन बुधिया,राजीव महेश्वरी,वेद अग्रवाल, प्रदीप अग्रवाल,रातुल दीवान ,राम  अवतार अग्रवाल,,प्रेम मिश्र, अभिनव पाण्डेय, सहित अन्य उद्यमी शामिल रहे हैं।

Tags:

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)