हिंदी साहित्य सम्मेलन प्रयाग के राष्ट्रीय प्रचार मंत्री बने डॉ सचिन सनातनी

Bekauf Khabar Bharat
By -
0

हिंदी  साहित्य सम्मेलन प्रयाग में संपन्न हुए चुनाव में  सूर्य प्रसाद दीक्षित-सभापति,  कुंतक मिश्र-प्रधानमंत्री और डॉ सचिन मिश्र बने अखिल भारतीय प्रचार मंत्री 



हिंदी साहित्य सम्मेलन (प्रयागराज) जिसकी स्थापना सन् 1910 में हुई थी। इसकी स्थापना , काशी हिंदी विश्व विद्यालय (वाराणसी)  के संस्थापक पंडित मदन मोहन मालवीय जी ने किया था। बापू कहे जाने वाले राष्ट्रपिता  महात्मा गांधी भी  इसके सभापति रह चुके हैं।इसके अलावा माखन लाल चतुर्वेदी , जयशंकर प्रसाद , पुरषोत्तम दस टंडन , राहुल सांकृत्यायन तमाम से गणमान्य लोग भी इसके सभापति रह चुके हैं। और अब वहीं काशी का पुत्र इन हस्तियों की जगह अब अपनी  जगह बनाते नजर आ रहा है। काशी के पुत्र व वाराणसी स्थित सनातनी संस्था ब्रह्मराष्ट्र एकम के संस्थापक डॉ सचिन सनातनी को इस हिंदी साहित्य समिति का अखिल भारतीय प्रचार मंत्री के पद पर नियुक्त किया गया है। विदेश (दुबई) से डॉक्टरेट के उपाधि प्राप्त डॉ सचिन मिश्र अपने जीवन काल में अब तक अनेकों सामाजिक सेवा किए और अनवरत करते आ रहें हैं। इनके द्वारा प्रति वर्ष अंतर्राष्ट्रीय सनातन अधिवेशन , समाज सेवा , धार्मिक सेवा और अब श्रीराम पगयात्रा। अब इन्हें अंतरराष्ट्रीय स्तर से हिंदी साहित्य और हिंदी भाषा को आगे बढ़ाने हेतु एक नया दायित्व प्राप्त हुआ है यह अत्यंत हर्ष का विषय है। अब यह स्थाई सदस्य भी हो चुके हैं।

हिंदी साहित्य सम्मेलन प्रयाग की स्थाई समिति ने 50 नई सदस्यता ली। जिसमे डॉ सचिन मिश्र (संस्थापक - ब्रह्मराष्ट्र एकम) को अखिल भारतीय प्रचार मंत्री नियुक्त किया गया है वहीं प्रो सूर्य प्रसाद दीक्षित को फिर से सभापति चुना गया है। दीक्षित सम्मेलन के दायित्व को लगातार 2009 से वहन कर रहें हैं। कुंतक मिश्र सम्मेलन के 24वें प्रधानमंत्री चुने गए हैं। कुंतक मिश्र के पास प्रधानमंत्री के अतिरिक्त भी दायित्व होगा।  हिंदी साहित्य सम्मेलन कार्य समिति के सदस्य  डॉ प्रभात ओझा ने बताया कि हमारी समिति ने राष्ट्रभाषा प्रचारक वर्धा के मंत्री डॉ हेमचंद्र वैद को बनाया है। वहीं डॉ रामकिशोर शर्मा साहित्य मंत्री , डॉ हरि नारायण दुबे परीक्षा मंत्री , रामनिवास पांडेय अर्थ मंत्री , और प्रचार मंत्री डॉ सचिन मिश्र* चुने गए हैं।  रविवार को सम्मेलन में हुई बैठक में तय हुआ कि हिंदू साहित्य सम्मेलन का अगला अधिवेशन पटना में 29 से 31 मार्च तक होगा। डॉ प्रभात ओझा के अलावा राजेंद्र त्रिपाठी , डॉ धनंजय चोपड़ा , प्रदीप भार्गव , सुभाष चंद्र शर्मा , चंद्र प्रकाश पांडेय , डॉ पद्माकर मिश्र , डॉ एमपी तिवारी , नरेंद्र देव पांडेय , और कृष्ण चंद्र शुक्ला , इत्यादि लोग समिति की ओर से नियुक्त किए गए। साथ ही समिति द्वारा सभी पदोनित लोगो को सम्मान किया गया।

Tags:

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)