शंकराचार्य जी महाराज के पदयात्रा के समर्थन में वकीलों ने की गौ पूजन व निकाली पदयात्रा

Bekauf Khabar Bharat
By -
0

वाराणसी । गौमाता को राष्ट्रमाता घोषित कराने व गोकशी बंद कराने हेतु वृंदावन से दिल्ली तक नंगे पांव पदयात्रा कर रहे परमाराध्य परमधर्माधीश ज्योतिष्पीठाधीश्वर जगदगुरु शंकराचार्य स्वामिश्री: अविमुक्तेश्वरानंद: सरस्वती जी महाराज के छठवें दिन के पदयात्रा के समर्थन में निवर्तमान पदेन बार एशोसिएशन के अध्यक्ष प्रभु नारायण पाण्डेय के नेतृत्व में सर्किट हाउस पर सैकड़ों की संख्या में उपस्थित अधिवक्ताओं ने गौपूजन कर पदयात्रा निकाली।पदयात्रा में सम्मलित लोग गौमाता राष्ट्रमाता,गोकशी बंद हो,शंकराचार्य की जय आदि उद्घोष कर रहे थे।उक्त आयोजन शंकराचार्य जी महाराज के मीडिया प्रभारी सजंय पाण्डेय मार्गदर्शन में आहूत किया गया।



पदयात्रा के पश्चात आयोजित धर्मसभा को सम्बोधित करते हुए बार एशोशिएसन के पदेन अध्यक्ष प्रभु नारायण पाण्डेय ने कहा कि समस्त वेद शास्त्र गौमाता का वर्णन करते नही अघाते।33 कोटि देवी देवता सहित समस्त तीर्थ गौमाता के अंदर विराजते हैं।गौ माता सिर्फ हमारे आध्यात्मि आस्था की केंद्र ही नही हैं वरन भौतिक आवश्यकताओं की भी पूर्ति करती हैं।ऐसी गौमाता के रक्षार्थ सनातनधर्म के शीर्ष पूज्य पुरुष शंकराचार्य जी महाराज नंगे पांव पदयात्रा कर रहे हैं।उनके पावों बड़े बड़े छाले निकल गए हैं।भारत सरकार को अविलंब उनके मांग पर ध्यान देकर गोकशी बंद करानी चाहिए व गौ माता को राष्ट्र माता घोषित कर सनातनियों के दृष्टि अपना उच्च स्थान बना लेना चाहिए।



धर्मसभा की अध्यक्षता घनश्याम मिश्रा विधिक पत्रकार संघ के महामंत्री ने किया।संचालन विनोद पाण्डेय भैया  ने किया।

आगन्तुकों को धन्यवाद ज्ञापन दीपक राय कान्हा ने दिया।


कार्यक्रम में प्रमुख रूप से शामिल अधिवक्ता सर्वश्री:-राहुल राज,विवेक शर्मा,किशन मिश्रा,प्रदीप सिंह,सचिन कुमार,प्रमोद मौर्या,विकास चौहान,बलदेव त्रिपाठी,सुनील पाण्डेय,सूर्य कुमार आदि सम्मलित हुए।

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)