काशी विद्यापीठ में आयोजित अंतःआवासीय प्रतियोगिता में येलो व ब्लू हाउस बनी विजेता

Bekauf Khabar Bharat
By -
0

वाराणसी। शारीरिक शिक्षा एवं योग विभाग, महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ द्वारा आयोजित प्रथम वालीबाल अंतःआवासीय (इंट्राम्यूरल) प्रतियोगिता का शुभारम्भ शनिवार को मुख्य अतिथि डॉ. सुनीता पाण्डेय, कुलसचिव, महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ ने किया। छात्र-छात्राओं से आह्वान किया कि आयोजन के उद्देश्य को आत्मसात करते हुए भविष्य में उसका उपयोग करें,


ताकि समाज में आपकी उपयोगिता और महत्ता बनी रहे। उन्होंने पाठ्यक्रम के इस अंश को बहुत उपयोगी और प्रभावी बताया।प्रतियोगिता में विभाग के बीए, बीपीएड तथा एमपीएड के विद्यार्थियों ने कुल चार टीमों ग्रीन हाउस, येलो हाउस, ब्लू हाउस तथा रेड हाउस से प्रतिभाग किया। प्रतियोगिता के सभी मैच नाक आउट आधार पर खेले गए। पहले मैच में रेड हाउस ने ग्रीन हाउस को 20–25, 25–17, 25–20 से पराजित कर फाइनल में प्रवेश किया। दूसरे मैच में येलो हाउस ने ब्लू हाउस को 25–19,14–25, 25–20 से पराजित कर फाइनल में अपना स्थान पक्का किया।



 फाइनल मैच में येलो हाउस ने रेड हाउस को  26–24, 25–20 से पराजित कर सर्वजेता होने का गौरव प्राप्त किया।उद्घाटन के पूर्व मार्च पास्ट से चारों हाउस ने उपस्थित दर्शकों का मन मोह लिया। शानदार मार्चपास्ट और परिधान से सुसज्जित ब्लू हाउस ने मार्च पास्ट की ट्राफी अपने नाम किया। विद्यार्थियों द्वारा बनाए गए पिरामिड को देख दर्शक भी ताली बजाने पर मजबूर हो गए। छात्राओं द्वारा प्रस्तुत स्वागत गीत और नृत्य ने माहौल को संगीतमय और उत्साह से भर दिया।



स्वागत भाषण देते हुए विभागाध्यक्ष प्रो. सुशील कुमार गौतम ने अंतःआवासीय प्रतियोगिता के महत्व एवं उद्देश्य पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम का संचालन ज्योतिष मौर्य, वंदना यादव व मनीषा और धन्यवाद ज्ञापन आयोजन सचिव रवि कुमार ने किया। इस अवसर पर डॉ. कुन्दन सिंह, डॉ. बालरूप यादव, डॉ. राधेश्याम राय, डॉ. देवेश कुमार सिंह, डॉ. सुनील कुमार यादव, भूपेन्द्र कुमार उपाध्याय, रमेश यादव, पंकज निगम, क्रांति कुमार, प्रताप शंकर दुबे, डॉ. रमेश सोनकर,अरविन्द सिंह, सरिता गुप्ता सहित कर्मचारी और विद्यार्थीगण उपस्थित रहे।

Tags:

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)