दिल्ली, मुंबई की महंगी सर्जरी काशी के सिग्नस लक्ष्मी हॉस्पिटल में हुई, मरीज की बची जान

Bekauf Khabar Bharat
By -
0

वाराणसी :कैण्ट रोडवेज स्थित काशी के प्रथम कारर्पोरेट सुपर स्पेशिलिटी हॉस्पिटल सिग्नस लक्ष्मी हॉस्पिटल के सभागार में प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया। इस प्रेस वार्ता के माध्यम से सिग्नस लक्ष्मी हॉस्पिटल ने अपनी सेवाओं के विस्तार में एक नया आयाम जोड़ते हुए सिग्नस लक्ष्मी हॉस्पिटल के जटिल सर्जरी के सफलता पूर्वक सम्पन्न होने पर विस्तार से जानकारी दी।


 30 वर्षीय मरीज राजू प्रसाद पता गांव-डुमरी बलिया, उ.प्र. को लगभग 5 सालों से इन गंभीर बीमारियों को लेकर हमारे अस्पताल आये थे जिनको गर्दन में दर्द, सभी अंगों एवं आंत्र मूत्राशय की कमजोरी और असंयम इत्यादि बीमारी थी। मरीज की स्थिति लगातार नाजुक होती जा रही थी। उन्हें कई मरीजों के माध्यम से डॉ. शशि शेखर सिंह व सिग्नस लक्ष्मी हॉस्पिटल के बारे में जानकारी मिली। सिग्नस लक्ष्मी हॉस्पिटल की सेवाओं के बारे में पूर्ण जानकारी लेने के बाद मरीज के परिजनों द्वारा दिल्ली, मुम्बई न ले जाकर यहीं पर सर्जरी कराने का फैसला किया गया।



 मरीज की सभी संबंधित जाचें की गई और उन्हें आगे की सर्जरी के लिए भर्ती कराया गया। उसके उपरान्त जाचों के आधार पर डाक्टर टीम द्वारा मरीज की Foramen Magnum De Compression (FMD) Occipito Cervical Fixation (OCF) सर्जरी सफलता पूर्वक किया गया। अब मरीज स्वस्थ है और उसके अंगों की कमजोरी भी ठीक है। इसके अतिरिक्त 49 वर्षीय मरीज बीरेन्द्र यादव, निवासी कोटवां, नारायनपुर, बलिया के मस्तिष्क की हड्डी हटाकर रक्त की जमी हुई थक्के को सफलतापूर्व निकालकर सर्जरी किया गया। इस सर्जरी के पश्चात मरीज अब पूर्णतः स्वस्थ है और अपने सारे दैनिक कार्य कर रहे  है।

तीसरी मरीज 25 वर्षीय पूजा देवी, निवासी राबर्टसगंज, सोनभद्र, उ.प्र., जिसको टीबी के कारण रीढ़ की ऊपरी हिस्से में पस (मवाद) जमा हो गया था जिसके कारण उसके खाने व सांस की नली पर दबाव पड़ रहा था और साथ ही सर्वाइकल स्पाइन की कुछ हड्डी भी खराब हो गई थी।बीमारी के दौरान दिल्ली के एम्स में इलाज करवा रही थी जहां उसकी बीमारी ठीक नहीं हो रही थी। 

उसके पश्चात उसे हमारे सिग्नस लक्ष्मी हास्पिटल की जानकारी हुई और वह यहां के डाक्टरों से परामर्श लिया और सफलतापूर्वक अपनी सर्जरी करवाई। सर्जरी के पश्चात अब वहपूर्णतः स्वस्थ है और अपने सभी दैनिक कार्य सुचारू रूप से कर रही है।

उपरोक्त मरीजों का डॉ. शशि शेखर सिंह (न्यूरो सर्जन), डॉ. दीपक राय (हड्डी रोग विशेषज्ञ), डॉ. विनीत अग्रवाल (एनेस्थेटिक) एवं उनकी टीम के द्वारा सर्जरी की गई व आज मरीज डिस्चार्ज होकर अपने घर जा रहा है, मरीज की सभी रिपोर्टस नार्मल हैं एवं वह पूर्णतः स्वस्थ है।

जैसा कि विदित हो कि कॅण्ट रोडवेज स्थित सिग्नस लक्ष्मी हॉस्पिटल पूर्वांचल का प्रथम कार्पोरेट सुपर स्पेशियालिटी हॉस्पिटल है जहाँ पर दिल्ली, मुंबई जैसे बड़े शहरों की महंगी चिकित्सा सुवधायें रियायती मूल्य पर उपलब्ध है। सिग्नस ग्रुप के चेयरमैन प्रोबल घोषाल द्वारा संदेश दिया गया कि न्यूरो एण्ड स्पाइन के क्षेत्र में सिग्नस लक्ष्मी हॉस्पिटल, पूर्वांचल

की जनता के लिये वरदान साबित होगा व गंभीर बीमारियों के इलाज के लिये बड़े शहरों की तरफ नहीं जाना पड़ेगा। सिग्नस लक्ष्मी हॉस्पिटल में हृदय रोग, न्यूरो सर्जरी, कैंसर सर्जरी, घुटना एवं कूल्हा प्रत्यारोपण, गैस्ट्रो एवं लीवर डिपार्टमेंट आदि विभागों की सुविधायें उपलब्ध है।इस प्रेस वार्ता के दौरान मेडिकल डायरेक्टर डॉ. सफीर हैदर, डॉ. शशि शेखर सिंह (न्यूरो सर्जन) व उनकी टीम के अलावा हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. दीपक राय, डॉ. विनीत अग्रवाल (एनेस्थेटिक) एवं वाइस प्रेसीडेंट  सुमित सैनी व एजीएम संतोष सिंह आदि उपस्थित रहे।

********************************

बेख़ौफ़ खबर भारत न्यूज़

                   बृजेश कुमार सिंह की रिपोर्ट

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)