स्वर्गीय पंडित नन्हकू महाराज के स्मृति में संगीत समारोह का हुआ आयोजन

Bekauf Khabar Bharat
By -
0

वाराणसी। बनारस घराने के फ़र्दी बाज के मूर्धन्य तबला वादक स्वर्गीय पंडित नन्हकू महाराज के पुण्य आत्मा के श्रीचरणों में संगीत समारोह का आयोजन डालिम्स सनबीम स्कूल, मानवाधिकार जननिगरानी समिति, बनारस म्यूजिक अकादमी और काशी डीजल के संयुक्त तत्वाधान में डालिम्स सनबीम स्कूल प्रांगण, रामकटोरा वाराणसी में किया गया|


कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वलन हिन्दू युवा वाहिनी के मंडल प्रभारी अमरीश सिंह भोला, फिल्म निदेशक मान सिंह, पंडित विकाश महाराज, विंग कमांडर विकाश चौधरी और डॉ लेनिन रघुवंशी द्वारा किया गया|

कार्यक्रम की रूपरेखा रखते हुये यश भारती सम्मानित एवं सदस्य, संत कबीर अकादेमी से सम्मानित पंडित विकाश महाराज ने कहा की पिछले चार वर्षो से पिता जी के याद में संगीत समारोह आयोजन कर रहे है| जिससे भारतीय शास्त्रीय संगीत एवं गुरु शिष्या परंपरा को और मज़बूती प्रदान किया जा सके।

उन्होंने आगे बताया की पंडित नन्हकू महाराज का जन्म 21 अगस्त, 1921 को हुआ और मृत्यु वाराणसी में 1995 में हुई| 13 वर्ष की आयु में एशिया के कई देश में सांगीतिक यात्राए की|

सन 1965 में पंडित नन्हकू महाराज को बंगाल टाइगर के उपाधि व 1994 में उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी सम्मान से भी सम्मानित किया गया है|

इसके पश्चात महाराज ट्रायो नाम से विश्व प्रसिद्ध सरोद वादक पंडित विकाश महाराज अपने सुपुत्र पंडित प्रभाष महाराज (तबला वादक) और अभिषेक महाराज (सितार वादक) के साथ मोक्षदायनी गंगा को समर्पित गंगा राग से साथ राग को बजाया| उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादेमी सम्मानित पंडित पूरन महाराज का एकल तबला वादन प्रस्तुत किया गया। नई दिल्ली से आयी हुई ठुमरी एवं ख्याल गायन श्रीमती श्वेता दुबे ने ठुमरी प्रस्तुत किया उनके साथ हारमोनियम पंकज मिश्रा ने संगत किया| उसके बाद पद्मविभूषण श्रीमति गिरिजा देवी के शिष्य युगल गायक राहुल एवं रोहित मिश्रा ने गायन प्रस्तुत किया| इस संगीत संध्या में शहर कई गणमान्य व्यक्ति में अपनी भागीदारी की। समारोह का संचालन पंडित  प्रभाष महाराज ने किया|

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)