जिलाधिकारी की अध्यक्षता में आयोजित हुई जिला स्वास्थ्य समिति शासी निकाय की समीक्षा बैठक

Bekauf Khabar Bharat
By -
0

वाराणसी। रायफल क्लब में शनिवार को जिलाधिकारी एस राजलिंगम की अध्यक्षता और मुख्य विकास अधिकारी हिमांशु नागपाल की उपस्थिति में जिला स्वास्थ्य समिति शासी निकाय की मासिक समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक में जिलाधिकारी ने आयुष्मान भारत - प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अंतर्गत नवीन सूचीबद्ध लाभार्थियों से संपर्क कर उनका आयुष्मान कार्ड बनाया जाए।


शासन से प्राप्त निर्देशानुसार जनपद के समस्त आयुष्मान भारत - हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के नाम को परिवर्तित कर जल्द से जल्द आयुष्मान आरोग्य मंदिर लिखवाया जाए। अब यह सेंटर आयुष्मान आरोग्य मंदिर के नाम से जाना जाएगा। प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के अंतर्गत पहली बार गर्भवती महिलाओं का लक्ष्य के सापेक्ष शत प्रतिशत पंजीकरण कराया जाए। इसके साथ ही दूसरी बच्ची पुत्री होने पर उसे पीएमएमवीवाई के साथ कन्या सुमंगला योजना का भी लाभ दिलाना सुनिश्चित करें। यदि पहली बच्ची भी पुत्री है तो उसे भी कन्या सुमंगला योजना का लाभ जरूर दिलाएं।

आशा कार्यकर्ताओं के सौ फीसदी भुगतान को लेकर पिंडरा व हरहुआ पीएचसी के प्रभारी चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया। लक्ष्य के सापेक्ष सौ फीसदी प्रसव पूर्व जांच (एएनसी) कराने को लेकर अराजीलाइन सीएचसी के अधीक्षक और सेवापुरी पीएचसी के प्रभारी चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया।जिलाधिकारी ने जननी सुरक्षा योजना (जेएसवाई ) के समस्त लाभार्थियों को शत प्रतिशत भुगतान  सुनिश्चित कराने के लिए निर्देशित किया। जिलाधिकारी ने जिला महिला अस्पताल कबीरचौरा स्थित एमसीएच विंग में प्रसव करा रहीं लाभार्थियों का सत्यापन करें। उन्हें योजना का लाभ मिल रहा है या नहीं, इसके फीडबैक के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ संदीप चौधरी को निर्देशित किया।

इस पर सीएमओ ने समस्त राजकीय चिकित्सालयों, सीएचसी व पीएचसी के अधीक्षक एवं प्रभारी चिकित्साधिकारी को अवगत कराया कि सामान्य प्रसव के बाद लाभार्थी को कम से कम 48 घंटे और सिजेरियन प्रसव के बाद लाभार्थी को कम से कम सात दिन तक चिकित्सा इकाई पर ही रोकना और देखभाल करना सुनिश्चित करें। इसके साथ ही बैठक में राष्ट्रीय नियमित टीकाकरण, राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम, पोषण पुनर्वास केंद्र, प्रथम संदर्भन इकाई (एफआरयू), एनीमिया मुक्त काशी अभियान, राष्ट्रीय किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम, टीबी मुक्त भारत अभियान, गैर संचारी रोग नियंत्रण कार्यक्रम समेत अन्य स्वास्थ्य कार्यक्रमों व योजनाओं की समीक्षा कर विस्तार से चर्चा की गई। 



इसके अलावा विकसित भारत संकल्प यात्रा में आयोजित किए जा रहे  शिविर में चिकित्सीय व स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करें। साथ ही शासन से निर्धारित पोर्टल पर शत प्रतिशत फीडिंग करें।बैठक में सीएमओ डॉ संदीप चौधरी ने पीपीटी के माध्यम से समस्त कार्यक्रमों और योजनाओं के बारे में अवगत कराया। इस मौके पर समस्त राजकीय चिकित्सालय के प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक, एसीएमओ, डिप्टी सीएमओ, डीपीओ आईसीडीएस, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, डीपीएम, मंडलीय डीपीएम, जिला सूचना अधिकारी, डीएचईआईओ समेत अन्य विभागीय अधिकारी एवं स्वास्थ्य कर्मी उपस्थित रहे।

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)