पुरानी पेंशन बहाली हेतु पूर्वोत्तर रेलवे मण्डल रेल प्रबंधक कार्यालय में भूख उपवास रखकर दिया गया धरना

Bekauf Khabar Bharat
By -
0

वाराणसी : ।JFROPS ( NJCA) एवं ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन के आवाहन पर आज दिनांक 9 जनवरी 2024 को पुरानी पेंशन बहाली की लंबित मांग को लेकर एन ई रेलवे मजदूर यूनियन, नॉर्दर्न रेलवे मेंस यूनियन,राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ,प्राथमिक , माध्यमिक, जूनियर, उच्च शिक्षक संघ, पेंशनर्स कल्याण संस्था सहित NCJA के अन्य घटक संगठनों द्वारा पूर्वोत्तर रेलवे  मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय पर सुबह 9:00 बजे से क्रमिक उपवास के आंदोलन के दूसरे दिन जारी रखा।कार्यक्रम की अध्यक्षता मथुरा तिवारी मंडल अध्यक्ष एन ई रेलवे मजदूर यूनियन द्वारा किया गया तथा संचालन एन बी सिंह व राणा राकेश द्वारा संयुक्त रूप से किया।


आन्दोलन के आखिरी चरण हड़ताल के पूर्व भूख उपवास कार्यक्रम के माध्यम से सरकार का ध्यान आकृष्ट किया सभा को संबोधित करते हुए एन ई रेलवे मजदूर यूनियन के मंडल मंत्री एन बी सिंह ने कहा कि अगर सरकार हमारी इस पुरानी पेंशन योजना बहाली की जायज मांग को नहीं मानती है तो सीधे तौर पर हड़ताल पर जाने का काम होगा  इसका चाहे कुछ भी परिणाम हो। ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन ने अपना राष्ट्रधर्म निभाते हुए सरकार को अपनी गलतियों को ठीक करने के लिए पर्याप्त समय दिया है। सिंह ने कहा कि पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त मंच द्वारा पुरानी पेंशन बहाली को लेकर राष्ट्रीय स्तर पर भारत सरकार से विगत दस वर्षों से मांग करता आ रहा है और ध्यानाकर्षण हेतु रामलीला मैदान पर लाखों की संख्या रैली करते हुए आज हड़ताल के पूर्व भूख उपवास कार्यक्रम कर धरना दे रहा है

परन्तु केन्द्र सरकार द्वारा पुरानी पेंशन बहाल न किया जाना निन्दनीय व खेद जनक है। जिला संयोजक एवं जिलाध्यक्ष राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद शशिकान्त श्रीवास्तव एवं सुनील सिंह मण्डल सचिव नार्दन रेलवे मेंस यूनियन ने संयुक्त रूप से कहा कि पुरानी पेंशन बहाली को लेकर अब तक शांति पूर्ण ढंग से चल रहे आंदोलन के आखिरी पड़ाव कार्य ठप हड़ताल किये जाने की ओर बढ़ रहे हैं 



इसके लिए केन्द्र एवं राज्य सरकार दोनों जिम्मेदार है और जब भी NCJA आवाहन होगा राज्य सरकार के सारे कर्मचारी संगठन सरकारी काम से विरत होने का काम करेंगे। याचना नहीं अब रण होगा संघर्ष बड़ा भीषण होगा।मण्डल अध्यक्ष दिवाकर द्विवेदी एवं मण्डल मंत्री दीपेन्द्र कुमार श्रीवास्तव ने संयुक्त रूप से कहा कि भारत सरकार ने पुरानी पेंशन व्यवस्था बहाल न करके अपने नियंत्रणकारी संस्थाओं से भविष्य में आर्थिक संकट का हवाला देकर बयानबाजी कराया जाना सत्य से परे और छलावा किया जा रहा है ताकि आम जन में कर्मचारियों के प्रति मतभेद उत्पन्न हो सकें।



यह सरकार की चाल है।इस अवसर पर वशिष्ठ नारायण सिंह पूर्व कर्मचारी नेता 80 वर्ष की अवस्था में मंच पर उपस्थित होकर उपवास में सम्मिलित हुए और पुरानी पेंशन की मांग को समर्थन दिया। इस अवसर पर सर्वश्री सुनील कुमार सिंह  सचिव नार्दन रेलवे मेंस यूनियन, दिवाकर द्विवेदी मण्डल अध्यक्ष, दीपेन्द्र कुमार श्रीवास्तव मण्डल मन्त्री,शशिकान्त श्रीवास्तव संयोजक



 एवं जिलाध्यक्ष,श्याम राज यादव जिला मंत्री,सुधांशु सिंह सम्प्रेक्षक राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ,अतुल कुमार सिंह अध्यक्ष रोजगार सेवक संघ,उपेन्द्र सिंह, हरेंद्र सिंह प्राथमिक शिक्षक संघ चन्दौली कन्हैया सिंह, चन्द्र शेखर सिंह,अवधेश पांडेय, यशोवर्धन त्रिपाठी अध्यक्ष विशिष्ट बीटीसी वेलफेयर एसोसिएशन,नॉर्दर्न रेलवे मेंस यूनियन के राजकुमार शाखा मंत्री सतीश कुमार अध्यक्ष प्रेम कुमार चौधरी सहायक शाखा मंत्री विवेक रघुवंशी सहायक शाखा मंत्री उपाध्यक्ष चंद्रजीत सर्वजीत कोषाध्यक्ष,



 श्रीमती रिंकी सिंह रेखा,तनु सिंह , कुमारी लक्ष्मी संगीता देवी चंपा देवी श्रीमती रानी सरोज यादव शाखा मंत्री,गीतांजलि राणा अध्यक्ष बाल विकास पुष्टाहार संघ,डीके सिंह राजेंद्र श्रीवास्तव रवि कुमार शर्मा ओम प्रकाश भानु प्रताप गिरी नवीन कुमार सिंह सुमन कुमार राम तीरथ यादव विवेक कुमार सिंह ,रविन्द्र नाथ सिंह मंत्री जूनियर हाई स्कूल शिक्षक संघ शैलेंद्र विक्रम सिंह मंत्री प्राथमिक शिक्षक संघ,जटाशंकर यादव अध्यक्ष अखिलेश पांडेय राम तीरथ यादव कमलेश सिंह



 अध्यक्षअवधेश पांडेय, हरेंद्र यादव, इंजीनियर सत्यदेव मिश्रा,जिलाध्यक्ष पेंशनर्स कल्याण संस्था,प्रेम चंद गुप्ता,हीरालाल,अमरदेव सिंह,सुभाष शाह अध्यक्ष केन्द्रीय कर्मचारी समन्वय समिति गौतम बरुआ, मण्डल अध्यक्ष, आयकर विभाग कर्मचारी संघ, भास्कर दूबे अध्यक्ष प्राथमिक शिक्षक संघ आदि लगभग दो सौ कर्मचारी शिक्षक पेंशनर्स भूख उपवास रखा।

Tags:

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)