स्टार्टअप के माध्यम से स्वरोजगार की ओर प्रेरित हों युवा

Bekauf Khabar Bharat
By -
0

वाराणसी।  महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ में शनिवार को लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय शाखा विकास कार्यालय वाराणसी एवं प्रबंध शास्त्र अध्ययन संस्थान के संयुक्त तत्वाधान में उद्यमिता जागरूकता कार्यक्रम एमबीए के विद्यार्थियों के लिए आयोजित किया गया।यह कार्यक्रम माननीय प्रधानमंत्री मोदी के विचारों को आगे बढ़ाते हुए छात्रों में इस बात की जागरूकता का सृजन किया जा सके कि वे नौकरियों के पीछे न भागें।


स्टार्टअप इत्यादि के माध्यम से स्वरोजगार की ओर प्रेरित हों जिससे वे स्वयं भी आय अर्जन कर सकें साथ ही साथ अन्य लोगों को भी अपने व्यवसाय में शामिल करके आय अर्जन करने में सहयोग प्रदान करें। कार्यक्रम में राजेश कुमार चौधरी असिस्टेंट डायरेक्टर एमएसएमई वाराणसी ने उद्यम एवं उद्यमिता की महत्ता,एमएसएमई शाखा की भूमिका एवं सरकार की विभिन्न योजनाओं के बारे में बताया;प्रभात कुमार सिन्हा एलडीएम,यूनियन बैंक ऑफ इंडिया,वाराणसी ने ऋण प्रदान करने में बैंक की भूमिका का उल्लेख किया; प्रबंध शास्त्र अध्ययन संस्थान के निदेशक एवं कार्यवाहक कुलपति प्रो. अशोक कुमार मिश्र ने एमबीए के विद्यार्थियों से अपेक्षा,उद्यम के मार्ग में आने वाले जोखिम, उतार चढ़ाव,मार्केट में संभावनाओं का उल्लेख किया।



 उन्होंने विद्यार्थियों को विश्वविद्यालय में स्थापित इनक्यूबेशन सेल के बारे में विस्तार से बताया। जिला उद्योग कार्यालय वाराणसी से असिस्टेंट कमिश्नर अजय कुमार गुप्ता ने भारत सरकार के द्वारा चलाई जाने वाली योजनाओं का इंटरनेट के माध्यम से कैसे लाभ उठा सकते हैं, इसके बारे में बताया। लघु उद्योग भारती,काशी प्रांत के अध्यक्ष राजेश सिंह  ने वाराणसी और आस-पास के जिलों में उद्योगों एवं उद्यम की स्थापना के समय आने वाली कठिनाइयों की व्यवहारिक जानकारी दी। एमएसएमई के सहायक निदेशक रितेश कुमार बरनवाल ने कार्यक्रम में धन्यवाद ज्ञापन किया। अंत में विद्यार्थियों किंशांकाओं का समाधान विशेषज्ञों द्वारा किया गया।

Tags:

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)