छिनैती की मोबाईल के साथ एक अभियुक्त को सारनाथ पुलिस ने किया गिरफ्तार

Bekauf Khabar Bharat
By -
0

वाराणसी ।पुलिस आयुक्त द्वारा अपराधों की रोकथाम चोरी/लूट की घटनाओं के सफल अनावरण एवं वांछित/फरार अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु चलाये जा रहे अभियान के क्रम में पुलिस उपायुक्त वरुणा ज़ोन के निर्देशन मे अपर पुलिस उपायुक्त वरुणा ज़ोन के पर्यवेक्षण मे एवं सहायक पुलिस आयुक्त सारनाथ के नेतृत्व में थाना सारनाथ पुलिस टीम द्वारा मुखबिर की सूचना पर मु0अ0 सं0-144/ 2024 धारा 356,411 भा0 द0वि0 थाना सारनाथ कमि० वाराणसी से सम्बन्धित अभियुक्त गणेश भारद्वाज पुत्र ओमप्रकाश निवासी ग्राम भगवानपुर थाना लंका वाराणसी हालपता मामा का घर ग्राम घुरहूपुर थाना सारनाथ को आज दिनांक-15.04.2024 को समय 07.13 बजे मंदिर बाबा टण्डन दास थाना सारनाथ से गिरफ्तार किया गया।


अभियुक्त के कब्जे से छिनैती का एक अदद मोबाइल फोन रेडमी-8A नीले रंग का बरामद हुआ। उक्त गिरफ्तारी व बरामदगी के सम्बन्ध में थाना सारनाथ पुलिस द्वारा अग्रिम विधिक कार्यवाही की जा रही है।दिनांक 13.04.2024 को वादी कमलेश राजभर पुत्र दिनदयाल नि० ग्राम सिंहपुर थाना सारनाथ द्वारा प्रार्थना पत्र दिया गया कि प्रार्थी 10 बजे पाण्डेयपुर अपने काम से वापस आ रहा था, जब प्रार्थी सिंहपुर रिंग रोड़ पुलिया के पास पहुंचा और अपने मोबाइल से बात करते हुए अपने घर की तरफ जाने लगा कि एक लड़का पीछे से आकर मेरे मोबाइल को छपट्टा मारकर लेकर भागने लगा।मैं पीछा करते हुये चोर-चोर चिल्ला रहा था तभी मेरे गांव वालों ने दौड़ाकर आगे से उसे पकड़ लिया मै भी मौके पर पहुंच गया वह अपना नाम गणेश तथा हमारे गांव के पड़ोस के गांव घुरहूपुर लक्ष्मीशंकर पुत्र स्व) छेदीलाल को अपना मामा बताने लगा। जब हम लोग आपस में एक-दूसरे से बात करने लगे तभी मौका पाकर मोबाइल छोड़कर भाग गया। प्राप्त प्रार्थना पत्र के आधार पर थाना सारनाथ में मु0अ0 सं0-144/2024 धारा 356 भा0द0वि0 पंजीकृत किया गया जिसकी विवेचना उ0नि0 जगदीश सिंह द्वारा की जा रही है। अभियोग में गिरफ्तारी / बरामदगी के आधार पर धारा 411 भा0द0वि0 की बढ़ोत्तरी की गयी।अभियुक्त ने पूछताछ पर बताया कि मैं रंगाई-पुताई का काम करता हूँ और करीब 10 दिन से अपने मामा  लक्ष्मीशंकर पुत्र स्व० छेदीलाल निवासी ग्राम घुरहूपुर सारनाथ वाराणसी के पास रह रहा था। मुझे पिछले दो-तीन दिनों से कोई काम नहीं मिला था, खर्चे की कमी थी तभी सिंहपुर पुलिया रिंगरोड पर सुनसान जगह देखकर मैं मोबाइल फोन छीनकर भागा था लेकिन गांव का रास्ता मुझे नहीं मालूम था इसलिए लोगों ने मुझे मौके पर ही पकड़ लिया था लेकिन जब मैने अपने मामा का नाम बताया तो लोगों ने मुझे छोड़ दिया था और मामा को बुला रहे थे, तभी मै मौका पाकर वहाँ से भाग गया था और आज मुझे बाहर जाना था लेकिन आप लोगों ने मुझे पकड़ लिया।गिरफ्तार  करने वाली पुलिस टीम उ0नि0 जगदीश सिंह थाना सारनाथ,का0 अशोक यादव थाना सारनाथ कमिश्नरेट वाराणसी।

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)